सेलिब्रिटीज ने होप बी~लिट की टीम के फूड डिस्ट्रिब्यूशन प्रोग्राम की तारीफ की

सेलिब्रिटीज ने होप बी~लिट की टीम के फूड डिस्ट्रिब्यूशन प्रोग्राम की तारीफ की

सेलिब्रिटीज ने होप बी~लिट की टीम के फूड डिस्ट्रिब्यूशन प्रोग्राम की तारीफ की

एलए पर आधारित नॉन प्रॉफिट होप बी~लिट और इसकी टीम ने गरीबों और जरूरतमंद लोगों को राशन (फूड पार्सल) देकर उनकी मदद की। जिसमें उन्हें बॉलीवुड और हॉलीवुड सेलिब्रिटीज का सपोर्ट मिला और होप बी~लिट की टीम की तारीफ भी हुई।

इंटरनेशनल लेवल पर प्रशंसित लॉस एंजेलिस स्थित नॉन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन होप बी~लिट अपने होप बियॉन्ड बॉर्डर्स प्रोजेक्ट के तहत, कोविद -19 से लड़ने में सपोर्ट कर रहा है और मुंबई स्थित लीला देसाई चॉल के 50 से अधिक परिवारों को उनकी जरूरत के अनुसार मदद भी कर रहा है।

इस इंटरनेशनल ग्रुप द्वारा की गई इस कोशिश को बॉलीवुड और हॉलीवुड के पॉपुलर सेलीब्रिटीज का भरपूर साथ मिल रहा है। स्टार्स जैसे-मन्त्रा, पंकज त्रिपाठी, अनीसा अनी बट्ट, एलीन ग्रुब्बा, अर्चना गुप्ता, टॉम ओहमर, जय ठक्कर, आर जे पिया, पायल घोष इस मुश्किल समय में इंटरनेशनल ग्रुप के साथ हैं।

होप बी~लिट ने सीनियर जर्नलिस्ट मोहम्मद नसीम खान के नेतृत्व में अपने लोकल ग्राउंड टीम के साथ मिलकर, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए, जरूतमंद परिवारों को एक महीने के लिए भोजन राशन प्रदान किया।

होप बी~लिट की फाउंडर रूही ने कहा, "हम जो कुछ भी करते हैं अपने बच्चों के लिए करते है। और आज देश के इस मुश्किल दौर में लोगों को अपने फ्यूचर की चिंता है, कई लोगों की नौकरियां जा रहीं हैं जिससे सभी लोग स्ट्रेस में है।और अपना स्ट्रेस लोग घर के बच्चों पर ही निकाल रहे है। इस दुनिया में माँ के प्यार के जैसा कुछ भी पॉवरफुल नहीं है और किसी बच्चे की आत्मा की तरह सरल कुछ भी नहीं है।परिवार में एक माँ और मदर नेचर दोनों ही बिना किसी शर्त प्यार देने की मिसाल है। उन्हीं कुछ परिवारों को राहत प्रदान करने के लिए मदर्स डे के दिन ये फूड डिस्ट्रिब्यूशन प्रोग्राम शुरू किया गया था।"

ऐसा पहली बार नहीं है जब इस ऑर्गेनाइजेशन ने भारत की सोसाइटी में अपना योगदान दिया है। दिसंबर, 2019 में होप बी-लिट की टीम ने भारत के कई शहरों की यात्रा की और बच्चों को कैंसर से बचाने के लिए अपने ग्राउंड ब्रेकिंग से पूरा डोनेट करके उनकी मदद की, जो उन्हें "ए वॉयस अनहीयर्ड फिल्म्स" बैनर के तहत बनी फिल्म "गॉट कैंसर" से मिला था।

होप बी~लिट के सोशल मीडिया डायरेक्टर अशले ने कहा, "अलग-अलग शहरों में ट्रवल करके कैंसर से पीड़ित उन बहादुर बच्चों से मिलना और उनके साथ काम करना एक लाइफ चेंजिंग एक्सपीरियंस था।"

इस एक्सपेरिमेंटल फिल्म "गॉट कैंसर" को हॉक ने लिखा है और इसे कार्तिकेय गुप्ता द्वारा एडिट किया गया है। अपने यूनीक कांसेप्ट के लिए इसने विश्व स्तर पर कई पुरस्कार जीते और कैलिफोर्निया में नेशनल टीवी पर प्रदर्शित इसे बेस्ट ह्युमन-इंटरेस्ट फिल्म के रूप में भी सम्मानित किया गया। धीरज विनोद कपूर (बोर्ड एडवाइजर- ए वॉयस अनहीयर्ड फिल्म्स होप बी~लिट) ने कहा, "होप परिवार का हिस्सा होना एक बहुत ही अच्छा अनुभव रहा है। सामाजिक फिल्मों के प्रभाव को पहचानना आज की दुनिया के लिए बहुत ही जरूरी है।"

बैनर के तहत और भी अपकमिंग प्रोजेक्ट जैसे- “गॉट कैंसर-सर्वाइवर्स जर्नी" का नाम शामिल हैं। कैनकिड्स किड्सकैन इंडिया के बहादुर कैंसर सर्वाइवर्स लोगों की सच्ची कहानियों पर आधारित एक डॉक्यूमेंट्री है और एक पॉवरफुल म्यूजिक वीडियो, "हीरो ऑफ माई ओन स्टोरी", जिसे एक जाने माने आर्टिस्ट द्वारा गाया गया है। होप बी ~ लिट महाराष्ट्र में किसानों को सपोर्ट करता है। इंडिया ने भी अक्षय सावंत के साथ एसोसिएट किया है जो पुरस्कार विजेता डॉक्यूमेंटरी फीचर "टॉकिंग टू द विंड" के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर है। "अ रेमी" नामक अवॉर्ड विनिंग फिल्म की कहानी इंडिया के महाराष्ट्र के गांवों में आत्महत्या करने वाले किसानों की स्थिति को दर्शाती है। इंडिया में जहाँ एक तरफ मुंबई जैसे मेट्रो शहरों में बॉलीवुड के कुछ धनी लोग है और दूसरी तरफ लोगों की ऐसी हालत है।

रुही हाक ने कहा, "हम हॉलीवुड/बॉलीवुड जैसे बड़ी इंडस्ट्री की तरह ही जादू चलाने के लिए कहानी को अच्छी तरह से लोगों के सामने लाने के साथ तैयार है और बहुत ही एक्साइटेड है।"

अर्पिता वत्स (सोशल आउटरीच डायरेक्टर - यूएसए) ने कहा, "ऑर्गेनाइजेशन की किसी भी लेयर्स के बिना जीवन को सीधे प्रभावित करना हमारी ताकत है।" धवल पोकले (आउटरीच डायरेक्टर, इंडिया) ने कहा, "इससे लोगों की मदद और सपोर्ट करने के लिए 100% डोनेशन देने में मदद मिलती है।" प्रियंका बनर्जी (कम्युनिकेशन डायरेक्टर- होप बी~लिट) ने कहा, ''आज हम ग्राउंड टीम के साथ कोलाबोरेट करके अलग-अलग जगहो पर काम करते हैं।"

Leave a Comment

OPEN IN APP