मेरे लिए अवॉर्ड की परिभाषा प्यार, मोहब्बत और आवाम की आवाज है- सिद्धांत चतुर्वेदी

मेरे लिए अवॉर्ड की परिभाषा प्यार, मोहब्बत और आवाम की आवाज है- सिद्धांत चतुर्वेदी

मेरे लिए अवॉर्ड की परिभाषा प्यार, मोहब्बत और आवाम की आवाज है- सिद्धांत चतुर्वेदी

बॉलीवुड एक्टर सिद्धांत चतुर्वेदी कल मुंबई में दादासाहेब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवॉर्ड्स फंक्शन के दौरान मीडिया से बातचीत कर रहे थे।

इस दौरान अवॉर्ड की परिभाषा उनके लिए क्या है इसके बारे में बताते हुए कहा कि मेरे लिए अवॉर्ड की परिभाषा प्यार, मोहब्बत और आवाम की आवाज है।

सिद्धांत चतुर्वेदी  ने कहा, "अवॉर्ड की परिभाषा प्यार, मोहब्बत और आवाम की आवाज है, इससे ज्यादा कुछ नहीं है। जब लोग आपके काम की सराहना करते है और प्यार देते हैं, और उनके प्यार की वजह से आप और मेहनत करते है, तो मेरे लिए भी अवॉर्ड बिलकुल वैसा ही है। उस अवॉर्ड को देखकर मैं सुबह उठूंगा, और उसे देखकर लगेगा कि और मेहनत करनी है और आगे बढ़ना है।"

गली बॉय फेम सिद्धांत चतुर्वेदी जल्द ही 2005 में रिलीज हुई सुपरहिट फिल्म 'बंटी और बबली' के सीक्वल 'बंटी और बबली-2' में नजर आने वाले है।

फिल्म के बारे में बात करते हुए सिद्धांत ने कहा, "मैं अभी इसी फिल्म की शूटिंग कर रहा था। शूटिंग करने में बहुत मजा आ रहा है। सैफ सर और रानी मैम से बहुत कुछ सीखने को मिल रहा है। दोनों बहुत ही प्यारे एक्टर है। मैं उनका बहुत बड़ा फैन था। बहुत अलग लगता है जब बचपन में आप उनकों देख रहे हो और फिर उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करने का मौका मिलता है। तो हमें बहुत मजा आ रहा है। बहुत ही फनी फिल्म है, और साथ ही एक फैमिली इंटरटेनर भी है। मैं आप लोगों को ये फिल्म दिखाने का इंतजार नही कर पा रहा हूँ। फिल्म की शूटिंग जैसे खतम होगी वैसे ही फिल्म रिलीज होगी, तो मैं बहुत एक्साइटेड है।"

सेट पर शूटिंग के दौरान हो रही मस्ती के बारे में बताते हुए सिद्धांत ने कहा, "सैफ सर और रानी मैम के साथ काम करने में बहुत मजा आ रहा है। बहुत हंसी मजाक तो हो ही रहा है, लेकिन साथ में बहुत कुछ सीखने को भी मिल रहा है।"

इस फिल्म में रानी मुखर्जी, सैफ अली खान, सिद्धांत चतुर्वेदी और न्यू कमर शरवारी भी है। इसका डायरेक्शन डेब्यूटेंट डायरेक्टर वरुण वी शर्मा कर रहे हैं। इसे आदित्य चोपड़ा प्रोड्यूस कर रहे हैं।

Leave a Comment

OPEN IN APP