जिंदगी में कुछ गम और कुछ खुशियाँ होती है- जावेद अख्तर

जिंदगी में कुछ गम और कुछ खुशियाँ होती है- जावेद अख्तर

जिंदगी में कुछ गम और कुछ खुशियाँ होती है- जावेद अख्तर

बॉलीवुड के फेमस राइटर जावेद अख्तर का कहना है कि हर जिंदगी में कुछ दुख होते हैं कुछ सुख होते हैं। कुछ गम होते है और कुछ खुशियाँ होती है।

जावेद अख्तर 17 जनवरी को अपना 75 जन्मदिन मनाएंगे। जावेद के जन्मदिन के दो दिन पहले 15 जनवरी को मुम्बई के नेहरू सेंटर की आर्ट गैलरी में उनकी अब तक की जर्नी के फोटोग्राफ्स, पोस्टर्स और पेंटिंग की एक प्रदर्शनी ऑर्गेनाइज की गई। इस प्रदर्शनी का उद्घाटन खुद जावेद अख्तर, शबाना आजमी, फरहान अख्तर और जोया अख्तर ने किया।

इस दौरान मीडिया से बातचीत करते हुए, अपनी जिंदगी के 75 साल को कैसे देखते हैं, इस बारे में बात करते हुए जावेद ने कहा, "देखिए! हर किसी की जिंदगी में कुछ दुख होते हैं कुछ सुख होते हैं। कुछ गम होते है और कुछ खुशियाँ होती है, और कुछ दर्द होते हैं लेकिन हमें अपना ग्रैंड टोटल देखना चाहिए। अगर हम ये शिकायत करेंगे कि ये क्यों हुआ, या वो क्यों हो रहा है; तो इसका कोई फायदा नही है। अगर ग्रैंड टोटल करेक्ट है और उससे खुश हो, तो फिर खुश रहो।"

जब जावेद से पूछा गया कि क्या उन्हें कभी ऐसा लगता है कि अभी कुछ करना रह गया है या कुछ छूट गया है; तो इसका जवाब देते हुए जावेद ने कहा, "अभी बहुत कुछ करना रह गया है, और बहुत कुछ छूट गया है। मैं जो कुछ भी काम अभी करता हूँ, उससे और ज्यादा काम मैं कर सकता हूँ। मैं और ज्यादा कविताएँ और लिरिक्स लिख सकता हूं, स्क्रिप्ट लिख सकता हूं। कई टॉपिक्स पर भी मैं बहुत काम कर सकता हूं। अलग-अलग जगहों पर जाकर मैं कई मुद्दों पर बोल सकता हूं, ताकि लोग मेरी बात सुनें, और मेरी बात को मानें।"

आगे जावेद ने अपनी बातों को बढ़ाते हुए कहा, "मुझसे ज्यादा बहुत से लोगों ने और ज्यादा काम किया है। ये तो दोस्तों का प्यार है जो मैनें हासिल किया है।"

Leave a Comment

OPEN IN APP