ये सच है कि पहले "ये साली आशिकी" फिल्म का टाइटल "पागल" था- डायरेक्टर चिराग रुपारेल

ये सच है कि पहले "ये साली आशिकी" फिल्म का टाइटल "पागल" था- डायरेक्टर चिराग रुपारेल

ये सच है कि पहले "ये साली आशिकी" फिल्म का टाइटल "पागल" था- डायरेक्टर चिराग रुपारेल

अपकमिंग फिल्म "ये साली आशिकी" के डायरेक्टर चिराग रुपारेल ने फिल्म के ट्रेलर लॉन्च के दौरान बताया कि पहले उन्होंने फिल्म का नाम "पागल" रखा था।

खबरे आ रही थी कि "ये साली आशिकी" फिल्म का टाइटल पहले "पागल" रखा गया था। जब चिराग से पूछा गया कि क्या ये सच है? तो चिराग ने कहा, "ये सच है कि पहले फिल्म का नाम पागल था। मैने और वर्धन ने लगभग 2 साल पहले से ही इस टाइटल को सोचा था, इसलिए हमें इस टाइटल से बहुत लगाव था।"

"जब कंगना रनौत और राजकुमार राव की फिल्म "मेंटल है क्या" का नाम बदलकर "जजमेंटल है क्या" कर दिया गया तो इससे हमें एक हिंट मिला की शायद हमें भी अपनी फिल्म का टाइटल बदलना पड़ सकता है। उसके बाद हमने दूसरा टाइटल सोचना शुरू किया। 'पागल' टाइटल इतना अच्छा था, हमें इतने अच्छे रिस्पांस मिल रहे थे, और लोगों को पसंद भी आ रहा था, तो हमारे लिए यह एक चैलेंज था कि उससे अच्छा टाइटल क्या हो सकता है।"

"उसके बाद मैंने और वर्धन ने "ये साली आशिकी" टाइटल सेलेक्ट किया। जब ये टाइटल आया तो हमें और हमारी टीम को एक्साइटिंग तो लग रहा था, लेकिन मैं और वर्धन सोच रहे थे कि क्या ये टाइटल पागल की ही तरह अच्छा है?"

"लेकिन कुछ दिनों के बाद हमें काफी अच्छा रिस्पांस मिलने लगा, हमें बहुत ही पॉजिटिव रिस्पांस मिला, लोगों ने कहा ये टाइटल पागल से अच्छा है, तब जाकर हमने ये एक्सेप्ट करना शुरू किया कि जब ये टाइटल लोगों को पसंद आ रहा है क्योंकि वैसे भी हम फिल्म लोगों के लिए ही बना रहे है, और जब लोग टाइटल को पसंद कर रहे हैं तो क्यों नहीं। हम इस टाइटल को लेकर काफी एक्साइटेड थे, और मुझे लगता है कि हमें अब ये टाइटल पागल से ज्यादा पसंद आ रहा है।"

फिल्म को जयंती लाल गाड़ा और राजीव अमरीश पुरी प्रोड्यूस कर रहे हैं। फिल्म में वर्धन पुरी और शिवालिका ओबेरॉय लीड रोल में है।

फिल्म 22 नवंबर को रिलीज होने वाली है।

Leave a Comment

OPEN IN APP